यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)
UFH News Wheel

अखिलेश के सपने पर चलेगी कुदाल | आगरा


Friday, April 21 2017
Vikram Singh Yadav, Chief Editor ALL INDIA

अखिलेश के सपने पर चलेगी कुदाल

आगरा : पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सपने साइकिल ट्रैक पर जल्द ही कुदाल चलने जा रही है, जिससे बारिश का पानी रोड से निकल सके। वहीं माल रोड में कई ऐसे स्थल हैं, जहां रोड संकरी है। इन स्थलों पर भी साइकिल ट्रैक को तोड़ा जा सकता है।

अखिलेश सरकार ने आगरा सहित अन्य शहरों में साइकिल ट्रैक बनवाए हैं। आगरा में दो साल पूर्व अवंतीबाई से फूल सैयद चौराहे तक साइकिल ट्रैक बना था। दो किमी लंबे ट्रैक के निर्माण पर 1.30 करोड़ रुपये खर्च हुए थे। ट्रैक की चौड़ाई दो मीटर और डिवाइडर से इसकी दूरी साढ़े दस मीटर है। लोक निर्माण विभाग के इंजीनियरों ने डिजायन में गड़बड़ी कर दी। इस बात का ख्याल नहीं रखा गया कि माल रोड से बारिश का पानी किस तरीके से निकलेगा। रोड के दोनों किनारे बने ट्रैक की ऊंचाई बढ़ा दी गई। इसके चलते पिछले साल हुई बारिश का पानी नहीं निकल सका। इससे जगह-जगह रोड खराब हो गई। कमिश्नरी चौराहे से ठीक पहले डिवाइडर से ट्रैक की दूरी नौ मीटर के करीब है। सूत्रों के अनुसार शासन ने ट्रैक के निर्माण को लेकर रिपोर्ट मांगी है। लोक निर्माण विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि ट्रैक की डिजायन में खामी रही है। जल्द ही इसे दूर किया जाएगा। ट्रैक के कुछ हिस्से को तोड़ा जा सकता है।

ट्रैक के बीचोंबीच हैं पेड़

माल रोड पर कई जगह ऐसी भी हैं। जहां ट्रैक के बीचोंबीच पेड़ खड़े हैं। चालकों को ट्रैक से नीचे साइकिल उतारनी पड़ती है।

अधूरा छोड़ दिया ट्रैक

सहायक श्रम आयुक्त कार्यालय, बीएसएनएल ग्राउंड के सामने की दोनों लेन पर ट्रैक का निर्माण नहीं हुआ है। जगह-जगह मलबा पड़ा है।

साइकिल ट्रैक की यह हालत

सपा शासनकाल में साइकिल ट्रैक पर हर दिन झाड़ू लगती थी। ट्रैक टूटने पर उसकी मरम्मत कराई जाती थी, लेकिन सरकार बदलने के बाद गंदगी फैली हुई है। जगह-जगह अतिक्रमण हो चुका है।

लगातार चला था जागरूकता अभियान

साइकिल ट्रैक को लेकर जिला प्रशासन ने लगातार जागरूकता अभियान चलाया था, जिस पर लाखों रुपये खर्च हुए थे, लेकिन इसके बाद भी ट्रैक के बदले साइकिल सवार रोड का प्रयोग करते थे।

खेरिया से अवंतीबाई चौराहे तक होना था निर्माण

पूर्व सरकार के दौरान खेरिया एयरपोर्ट से अवंतीबाई चौराहे तक साइकिल ट्रैक का प्रस्ताव तैयार हुआ था, लेकिन इसका बजट अभी तक रिलीज नहीं हुआ।

 

नवीन समाचार व लेख

मुजफ्फरनगर रेल हादसे में 23 लोगों की मौत, 40 घायल, रेस्क्यू ऑपरेशन पूरा

मुजफ्फरनगर रेल हादसाः ट्रैक पर चल रहा था मरम्मत का काम, ड्राइवर ने लगाया इमरजेंसी ब्रेक

जीएसटी रिटर्न भरने और भुगतान करने की आखिरी तारीख 25 अगस्त

सपा के प्रतिनिधि मंडल ने पूर्व मुख्यमंत्री को सौंपी रिपोर्ट

उत्कल एक्सप्रेस हादसाः दो सौ मीटर लंबा ट्रैक काफी समय से खराब