परिवार वालों को 'तमंचे वाली' बहू अस्वीकार बेटे से भी तोड़ा नाता | बांदा

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)
UFH News Wheel

परिवार वालों को 'तमंचे वाली' बहू अस्वीकार बेटे से भी तोड़ा नाता | बांदा


Saturday, May 20 2017
Unite For Humanity, Admin ALL INDIA

परिवार वालों को 'तमंचे वाली' बहू अस्वीकार बेटे से भी तोड़ा नाता

बांदा । 'तमंचे वाली प्रेमिका' के कदम ने रामहित के परिवार में भूचाल ला दिया है। अब वह उसे बहू बनाना तो दूर अपने बेटे को भी स्वीकार नहीं करना चाह रहे हैं। उनका कहना है बेटे ने पूरे परिवार को छला है। यदि वह ऐसा बताता तो उसकी शादी दूसरी जगह तय ही नहीं करते। उसने समाज के सामने हमें शर्मिंदा किया है। बीते सोमवार को हमीरपुर के मौदहा से शादी समारोह के दौरान जनवासे से दूल्हा अशोक यादव को उसकी प्रेमिका दो साथियों की मदद से तमंचे की दम पर अगवा कर लाई थी।

पुलिस ने बांदा से बुधवार को युवती को गिरफ्तार कर अशोक को भी बरामद कर लिया था। इस घटना से अशोक का पूरा परिवार व्यथित है। शुगर और हाई ब्लड प्रेशर के मरीज अशोक के पिता रामहित यादव बेहद दुखी हैं। घर के एक सूने कमरे में घटना की याद उन्हें झकझोर रही है। पिता रामहित ने बताया कि मेरी जिंदगी का यह सबसे बड़ा सदमा है। घर से निकलने और लोगों का सामना करने की हिम्मत नहीं रह गई है।

पिता रामहित ने बताया कि ब्लड प्रेशर की गोलियां खाकर अंधेरे कमरे में चुपचाप लेटा हूं। कई सवालों के बाद कहा कि यदि बेटे ने कभी जिक्र किया होता तो निश्चित ही उसकी शादी कहीं और तय ही नहीं करता। उसकी प्रेमिका को बहू बनाने की बात पर तेज आवाज में बोले कि न-न बहू की बात छोड़ो, अब तो बेटे से भी रिश्ता खत्म। कहीं भी रहे उससे कोई वास्ता नहीं है।

तमंचे वाली प्रेमिका' और उसके प्रेमी अशोक के बीच गुरुवार को मौदहा कोतवाली में कई घंटे बातचीत होती रही। सूत्रों के मुताबिक दोनों शादी को राजी हो गए हैं लेकिन दोनों के बीच लिखित समझौता नहीं हुआ। शुक्रवार को कोर्ट आए अशोक ने भी इस बात को कहा कि वह शादी करने के लिए तैयार है। कोतवाली प्रभारी अनिल सिंह के मुताबिक दोनों शादी करने को तैयार हैं। उनके परिवारीजन को शनिवार को बुलाया गया है। इनके आने के बाद ही कुछ निर्णय निकल सकता है। भवानीपुर गांव निवासी दुल्हन के परिवारीजन शादी के लिए दिया गया दहेज, सामान व बरात के स्वागत में खर्च धनराशि वापसी की मांग की है। दुल्हन के परिवारीजन ने कहा कि अगर रुपये नहीं वापस किए गए तो दहेज उत्पीडऩ का मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। 

तमंचे वाली प्रेमिका' द्वारा बरात से अगवा किए गए अशोक को पुलिस ने बयान दर्ज कराने के लिए कोर्ट में पेश किया। पुलिस उसके अपहरण पर बयान दिलवाने लाई थी लेकिन जज के सामने अशोक ने कुबूल किया कि वह तीन वर्षों से युवती के संपर्क में है। इसके बाद पुलिस अशोक को दोबारा मौदहा कोतवाली वापस ले गई। 

पुलिस हिरासत में मौजूद प्रेमिका व उसके साथी राहुल से पुलिस अभी पूछताछ कर रही है। युवती अशोक से शादी करने की जिद कर रही है वहीं अशोक प्रेमिका को निर्दोष बता रहा है। अशोक का कहना है कि प्रेमिका ने जान से मारने की धमकी दी थी इसलिए वह उसके साथ चला गया था। अगर वह उसे लेकर वहां से नहीं आता तो ग्रामीण उसे मार डालते। वह तमंचा लेकर नहीं आई थी। 

 

नवीन समाचार व लेख

अलीगढ़,दिनभर हुई बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त, कई क्षेत्रों में जलभराव

बहन-बेटी की रक्षा करना अपराध है तो यह अपराध हर बार करुँगी: बीजेपी नेत्री

प्रधानमंत्री डिजिटल साक्षरता अभियान के तहत हो रहे गॉव के बच्चे शिक्षित

अलीगढ़,कब तक सहते रहेंगे ये कंपनी मालिकों के जुल्म और अत्याचार

रफ़्तार का कहर रायबरेली

SELECT id FROM category WHERE mtitle='परिवार वालों को 'तमंचे वाली' बहू अस्वीकार बेटे से भी तोड़ा नाता | बांदा' AND st = 1