बरेली में शोहदों के खौफ से छात्रा ने छोड़ी पढ़ाई, एसएसपी से गुहार | बरेली

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)
UFH News Wheel

बरेली में शोहदों के खौफ से छात्रा ने छोड़ी पढ़ाई, एसएसपी से गुहार | बरेली


Saturday, September 23 2017
Vikram Singh Yadav, Chief Editor ALL INDIA

बरेली में शोहदों के खौफ से छात्रा ने छोड़ी पढ़ाई, एसएसपी से गुहार

 एंटी रोमियो स्क्वॉड के दम पर भले ही पुलिस महिला सुरक्षा के दावे कर रही है, लेकिन धरातल पर कड़वा सच यह है कि शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र तक शोहदों का आतंक है। आलम यह है कि शोहदे के खौफ से हाईस्कूल छात्रा को पढ़ाई तक छोडऩी पड़ गई। एक महीने से छात्रा स्कूल नहीं गई है। फतेहगंज पूर्वी के शब्बीर कॉलोनी निवासी हाईस्कूल की छात्रा से मुहल्ले में रहने वाले व्यक्ति के तीन बेटे आए दिन उससे छेड़खानी करते थे।

21 अगस्त को छात्रा साइकिल से स्कूल जा रही थी। शोहदों ने बाइक से टक्कर मारकर उसे गिरा दिया और छेड़खानी की। घटना से वह इतनी दहशत में आ गई कि घर से दो दिन नहीं निकली। तीसरे निकली तो फिर से उसके साथ छेडख़ानी की गई। छात्रा किसी तरह बचकर घर भागी तो आरोपी घर में घुस आए और पिटाई की। बचाने आए परिजनों को भी पीटा। तभी से खौफजदा छात्रा पढ़ाई छोड़कर घर में कैद हो गई। पीडि़ता ने शुक्रवार को एसएसपी से इसकी शिकायत की तो उन्होंने कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

मनचले को भीड़ ने पीटा
कैंट क्षेत्र में रहने वाली तेरह वर्षीय छात्रा कक्षा आठवीं में पढ़ती है। शाम को वह पैदल कोचिंग पढऩे के लिए बुखारा गांव जा रही थी। तभी बारी नगला शराब भट्ठी के पास दो युवक छात्रा से छेड़खानी करने लगे। विरोध पर अश्लील हरकत कीं। छात्रा ने शोर मचाया तो आसपास मौजूद लोगों ने धीर पाल और धर्मपाल नाम के दो युवकों को दबोच लिया और उन्हें जमकर धुना और पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर दोनों को जेल भेज दिया।

ट्यूटर के शोषण से परेशान बीए की छात्रा ने लगाई फांसी
गाजियाबाद । लालकुआं निवासी बीए तृतीय वर्ष की छात्रा ने ट्यूटर द्वारा किए जा रहे शोषण से परेशान होकर शुक्रवार सुबह आत्महत्या कर ली। छात्रा ने सुसाइड नोट में ट्यूटर को ही इसके लिए दोषी ठहराया है। इस संबंध में परिजनों ने आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। कविनगर थाना प्रभारी नीरज सिंह ने बताया कि छात्रा के पिता निजी कंपनी में सिक्योरिटी गार्ड हैं। उनकी बेटी बीए तृतीय वर्ष की छात्रा थी।

छात्रा सिकंदराबाद निवासी अतुल यादव के यहां कई साल से अंग्रेजी की कोचिंग लेती आ रही थी। तीन साल से अतुल उसका शारीरिक शोषण करने लगा था। दो साल पहले उसने दूसरी युवती से शादी कर ली। शादी के बाद भी वह छात्रा का शारीरिक शोषण करता था। इससे परेशान होकर छात्रा ने शुक्रवार आत्महत्या कर ली। इस समय घर पर कोई भी नहीं था। पुलिस को मौके से सुसाइड नोट बरामद हुआ है। इसमें छात्रा ने अपनी मौत का जिम्मेदार अतुल को ठहराया है।  

 

नवीन समाचार व लेख

राजस्थान विधानसभा के चुनाव अभी दूर,लेकिन मुख्यमंत्री पद को लेकर कांग्रेस में अभी से वकालात

इलाहाबाद में शुरू हुवास्वच्छ भारत मिशन नहीं होगा खुले में शौच

ईपीएफओ ने शुरू की नई सर्विस, UAN को आधार से करें ऑनलाइन लिंक

बैंक खाते को आधार से जोड़ने का फैसला सरकार का रिजर्व बैंक की कोई भूमिका नहीं

योगी सरकार की ओर से जारी साल 2018 के लिए कलैंडर में मिली ताजमहल को जगह