बीआरडी मेडिकल कालेज प्रशासन कांग्रेसी नेताओं के सवालों पर निरुत्तर | गोरखपुर

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)
UFH News Wheel

बीआरडी मेडिकल कालेज प्रशासन कांग्रेसी नेताओं के सवालों पर निरुत्तर | गोरखपुर


Saturday, August 12 2017
Vikram Singh Yadav, Chief Editor ALL INDIA

बीआरडी मेडिकल कालेज प्रशासन कांग्रेसी नेताओं के सवालों पर निरुत्तर

बाबा राघव दास मेडिकल कालेज में बीते तीन दिन से ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी का कारण बच्चों सहित 48 लोगों की मौत के बाद अब मेडिकल कालेज प्रशासन की कलई खुलने लगी है। आज यहां कांग्रेस नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल पहुंचा। प्रतिनिधिमंडल ने मेडिकल कालेज का दौरा किया और ढेर सारी कमी पर सवाल उठाए, लेकिन उनके सवालों पर मेडिकल कालेज प्रशासन निरुत्तर रहा। 

कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल आज दिन में करीब 10:30 बजे मेडिकल कालेज पहुंचा। उसमें कांग्रेस के महामंत्री गुलाम नबी आजाद, प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर तथा राज्यसभा सदस्य डॉ. संजय सिंह व प्रमोद तिवारी के साथ पूर्व मंत्री आरपीएन सिंह शामिल थे। सबसे पहले प्रतिनिधिमंडल प्राचार्य के आफिस गया। उन्होंने प्रभारी प्राचार्य डॉक्टर राम कुमार जायसवाल और डॉक्टर राकेश कुमार सक्सेना से बच्चों के मौत की वजह पूछी।

डॉक्टर एक भी सवालों का सही जवाब नहीं दे पाए। इसके बाद प्रतिनिधिमंडल ने इन्सेफेलाइटिस वार्ड में पीडि़त बच्चों का हालचाल किया। पत्रकारों से बातचीत में गुलाम नबी आजाद ने बच्चों की मौतों को प्रदेश सरकार की नाकामी बताते हुए सरकार से माफी मांगने को कहा। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज में इस तरह की घटनाएं शर्मनाक है। जिम्मेदारों को बर्खास्त किया जाना चाहिए।