यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)
UFH News Wheel

शिक्षा विभाग नकल विहीन बोर्ड परीक्षा कराने की तैयारियों में जुटा | हमीरपुर


Wednesday, March 08 2017
अमित कुमार, सहसंपादक बुंदेलखंड

शिक्षा विभाग नकल विहीन बोर्ड परीक्षा कराने की तैयारियों में जुटा

हमीरपुर :  UFH NEWS

       नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए प्रशासन बड़े-बड़े दावे कर रहा है, लेकिन संवेदनशील केंद्रों पर नकल रोकने के लिए प्रशासन के पास कोई ठोस प्लान नहीं है। जिले में शिक्षा माफिया पूरी तरह से हावी हैं। वह अभी से नकल कराने का प्लान तैयार करने में जुट गए।

        जहां एक ओर माध्यमिक शिक्षा विभाग नकल विहीन बोर्ड परीक्षा कराने की तैयारियों में जुटा है, वही दूसरी ओर नकल माफिया परीक्षार्थियों को नकल कराने का प्लान तैयार कर रहे है। विभाग की ओर से 12 केंद्रों को संवेदनशीलता की सूची में डाला गया है। इन केंद्रों में नकल रोकने के लिए विभाग ने अभी तक कोई ठोस तैयारी नहीं की है। सवाल यह है कि इन केंद्रों पर नकल कैसे रोकी जाएगी। नकल रोकने के लिए एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार की 13 टीमें बना कर लगाया गया है। परीक्षा के दौरान यह टीमें केंद्रों का निरीक्षण कर वहां की व्यवस्था पर नजर रखेंगे। पिछले वर्ष हुई बोर्ड परीक्षा में भी कुछ केंद्रों में नकल की शिकायत मिली थी। शिकायत मिलने पर तत्कालीन डीएम संध्या तिवारी स्वयं केंद्र में बैठ कर परीक्षा कराई थी।

संवेदनशील केंद्रों की सूची

जिला विद्यालय निरीक्षक ने बताया कि रामनारायण इंटर कालेज कुरारा, कामता प्रसाद इंटर कॉलेज सुमेरपुर, राजकीय बालिका इंटर कालेज सुमेरपुर, लक्ष्मीचंद्र पालीवाल इंगोहटा, गांधी इंटर कालेज मौदहा, आदर्श इंटर कालेज मौदहा, चौधरी पहलवान इंटर कालेज इचौली, गुरुदयाल साहू इंटर कालेज नायकपुरवा, कृष्णराज मंदिर इंटर कालेज छानी, गो¨वद इंटर कालेज गहरौली, रामस्वरुप ब्रम्हचारी इंटर कालेज धवगा, शल्लेश्वर इंटर कालेज सरीला को संवेदनशील बनाया गया है।

 डा. चंद्रशेखर मालवीय, जिला विद्यालय निरीक्षक

             ''संवेदनशील केंद्रों पर अधिक नजर रखी जाएगी, अगर केंद्रों पर नकल हुई तो केंद्र व्यवस्थापकों पर कार्रवाई की जाएगी, गेट पर सघन तलाशी के बाद ही परीक्षार्थियों को केंद्र के अंदर प्रवेश दिया जाएगा।''