यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)
UFH News Wheel

मॉडल के तर्ज पर तैयार होंगे जिले के अस्पताल | अस्पताल


Friday, October 06 2017
Vikram Singh Yadav, Chief Editor ALL INDIA

मॉडल के तर्ज पर तैयार होंगे जिले के अस्पताल

बलरामपुर : सरकारी अस्पताल में बेहतर स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने के लिए लागू की गई कायाकल्प योजना के लिए जिले के ब्लॉक स्तरीय अस्पतालों को नए सिरे से तैयार किया जाएगा। जिससे अस्पताल 75 से अधिक अंक हासिल कर योजना में चयनित होकर पुरस्कार जीत सके। इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है।

कायाकल्प योजना में अंतर्गत जिला व ब्लॉक स्तरीय अस्पताल में साफ-सफाई, स्वच्छता व मरीजों को मिलने वाली सुविधाओं की समीक्षा की जाती है। मंडलीय टीम की जांच में अस्पताल को 75 या उससे अधिक अंक मिलने पर ऐसे स्वास्थ्य केंद्रों को एक लाख का पुरस्कार देकर सम्मानित किया जाता है। साथ ही मंडलीय टीम अस्पताल का नाम प्रदेश की कायाकल्प समिति को भेजती है। वहां से प्रदेश टीम दोबारा संबंधित केंद्र का मूल्यांकन करती हैं। इसमें प्रदेश के तीन सर्वाधिक अंक पाने वाले अस्पतालों को दस, आठ व पांच लाख का पुरस्कार देकर सम्मानित किया जाता है। इस योजना के लिए जिले के स्वास्थ्य महकमे ने तैयारी शुरू कर दी है। सीएमओ ने इस योजना में पुरस्कृत होने वाले गाजियाबाद, नोएडा, ललितपुर के मॉडल अस्पतालों की फोटो चिकित्सा अधीक्षक को भेजी है। उसी के अनुरूप अस्पताल को नए सिरे से तैयार करने का निर्देश भी दिया है। जिससे अस्पताल कायाकल्प योजना में शामिल होकर पुरस्कार जीत सके।

- जिले में संचालित अस्पतालों का चयन कायाकल्प योजना के लिए नहीं हो सका है। यहां के किसी भी अस्पताल को मंडलीय टीम ने ही 50 से अधिक अंक नहीं दिए हैं। इस बार योजना में चयन को लेकर चिकित्सक व अधिकारी एड़ी चोटी का जोर लगा रहे हैं।

- कायाकल्य योजना के लिए सभी चिकित्सा अधीक्षक को स्वास्थ्य केंद्रों में आवश्यक सुधार करने का निर्देश जारी कर दिया गया है। उन्हें प्रतियोगिता के लिए निर्धारित ¨बदु भी बताए गए हैं। जिससे वह उनमें सुधार कर योजना में चयनित हो सके। जिला व प्रदेश स्तर पर पुरस्कार जीत कर जिले का मान बढ़ाया जा सके।

- डॉ. घनश्याम ¨सह, सीएमओ।