उपलब्धि: कानपुर में एचएएल ने बनाया विमान, कीमत 60 करोड़ | कानपुर

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)
UFH News Wheel

उपलब्धि: कानपुर में एचएएल ने बनाया विमान, कीमत 60 करोड़ | कानपुर


Friday, April 21 2017
Vikram Singh Yadav, Chief Editor ALL INDIA

उपलब्धि: कानपुर में एचएएल ने बनाया विमान, कीमत 60 करोड़

जमीन पर बहुत दौड़े, अब हवा में उड़ने को तैयार रहिए। अब आप महानगर में 60 करोड़ रुपये में अपना विमान खरीद सकते हैं। हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) की कानपुर शाखा ने दो सिविल एयरक्राफ्ट तैयार कर लिए हैं। मई में पहले विमान का ट्रायल किया जाएगा।

दिसंबर 2016 में कानपुर में पहली बार सिविल एयरक्राफ्ट का निर्माण शुरू हुआ था। दो विमान तैयार हो गए हैं, अब सिर्फ वायरिंग कार्य ही किया जा रहा है। अगले महीने 19 सीट वाले इस विमान को देश के नासिक व पुणे में प्रस्तुतिकरण के लिए उतारा जाएगा। महाप्रबंधक एमएम तपासे ने बताया कि नागरिकों के लिए दो विमान के निर्माण का काम लगभग पूरा हो चुका है। इसे मई में उड़ाने की योजना बनाई गई है।

58 मिनट में 280 किलोमीटर की उड़ान: 'डार्नियर डीओ-228' सिविल एयरक्राफ्ट से 58 मिनट में करीब 280 किलोमीटर की उड़ान भरी जा सकेगी। यह विमान 6400 किलोग्राम का अधिकतम वजन ले जा सकेगा। 370 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से यह एयरक्राफ्ट उड़ सकता है, वीआइपी के लिए 11 सीटें अतिरिक्त होंगी।

प्रति वर्ष 10 विमान बनाएंगे: एचएएल की कानपुर शाखा प्रति वर्ष 10 ऐसे विमान बनाएगी। हालांकि नागरिक उड्डयन मंत्रलय द्वारा निर्माण लक्ष्य में और वृद्धि करने के लिए भी कहा गया है, जिस दिशा में प्रबंधन कार्य कर रहा है।

अभी यहां ये विमान बनते हैं: एसयू 30 एमकेआई, हॉक एजेटी, लाइट कंबट एयरक्राफ्ट, डीओ 228 एयरक्राफ्ट, ध्रुव एडवांस लाइट हेलीकॉप्टर व चीतल हेलीकॉप्टर आदि बनाए जाते हैं।