सीएम योगी आदित्यनाथ का फरमान, आज से यूपी में लाल और नीली बत्ती बैन | लखनऊ

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)
UFH News Wheel

सीएम योगी आदित्यनाथ का फरमान, आज से यूपी में लाल और नीली बत्ती बैन | लखनऊ


Friday, April 21 2017
Vikram Singh Yadav, Chief Editor ALL INDIA

सीएम योगी आदित्यनाथ का फरमान, आज से यूपी में लाल और नीली बत्ती बैन

वीआईपी कल्चर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रहार का यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तत्काल प्रभाव से स्वागत किया है. योगी आदित्यनाथ ने पीएम के फैसले को दस दिन पहले ही यूपी में लागू कर दिया. यानी आज से यूपी में लाल और नीली बत्ती लगी गाड़ियां नजर नहीं आएंगी.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार शाम विभागों की प्रजेंटेशन देखने के लिए बैठक बुलाई थी. सीएम योगी ने प्रजेंटेशन तो देखी ही, साथ ही पीएम मोदी के फैसले पर अमल का फरमान भी जारी कर दिया. सीएम योगी ने पूरे राज्य में 21 अप्रैल से ही लाल और नीली बत्ती के इस्तेमाल पर ब्रेक लगाने का आदेश जारी कर दिया.

मीटिंग में ये फैसला हुआ
मीटिंग में फैसला हुआ कि कोई भी नेता अपनी गाड़ियों पर लाल और नीली बत्ती नहीं लगाएगा. यानी आज से नेताओं या अधिकारियों की गाड़ियों पर कोई बत्ती नजर नहीं आएगी. अगर आदेश का उल्लंघन किया गया तो ऐसा करने वालों के खिलाफ एक्शन लिया जाएगा. बता दें कि हूटर बजाने का आदेश पहले ही खत्म किया जा चुका है.

हालांकि केंद्र सरकार का फैसला आने के बाद स्वाति सिंह समेत कई मंत्रियों ने अपनी गाड़ी से लाल बत्ती पहले ही उतार दी थी. जबकि अधिकारी बदस्तूर अपनी गाड़ियों पर पहले की तरह नीली बत्ती लगाकर चलते रहे. यही नहीं कई अधिकारियों के बच्चे और परिवार के लोग भी नीली बत्ती लगाकर स्कूल पहुंचते रहे, बाजार घूमते रहे.

बता दें कि मोदी  ने बुधवार को गाड़ियों से लाल बत्ती हटाने का फैसला लिया था. फैसले के बाद से केंद्रीय मंत्रियों ने तुरंत अपनी गाड़ियों से बत्ती हटानी शुरू कर दी थी. इस फैसले के बाद पीएम मोदी ने कहा था कि ये कल्चर पहले ही खत्म हो जाना चाहिए था. वहीं ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर नितिन गडकरी का कहना है जो इस नियम का पालन नहीं करेगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.