यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)
UFH News Wheel

मेरठ में 50 दिन में पूरा करना होगा सीएम योगी का टास्क | मेरठ


Friday, April 21 2017
Vikram Singh Yadav, Chief Editor ALL INDIA

मेरठ में 50 दिन में पूरा करना होगा सीएम योगी का टास्क

अगर आप मेरठ में वाहन चला रहे हैं तो यातायात नियमों का पालन करना सीख लीजिए। सरकार ने पुलिस को 50 दिन का योगी टास्क देकर यातायात के नियमों का पालन कराने के आदेश दिए हैं। साथ ही भू-माफिया, शराब माफिया, खनन माफिया और अपराध माफिया के साथ थानों में लंबित पड़े माल के निस्तारण के लिए 30 दिन का समय दिया है।

तीनों ही मामलों में नोडल अफसर पीपीएस को बनाया है। यातायात पर सबसे ज्यादा ध्यान इसलिए दिया जा रहा है क्योंकि जनपद में हत्या से ज्यादा हादसों में लोग जान गंवा चुके हैं। कप्तान ने सभी अधीनस्थों को योगी टास्क दे दिया है, 22 अप्रैल को कप्तान आवास पर प्लानिंग के बाद 23 अप्रैल से नियम लागू होगा।

कार की ड्राइविंग कर रहे हैं तो बेल्ट लगानी निश्चित करें और बाइक पर चल रहे हैं तो हेल्मेट की आदत भी डाल लीजिए। गलत साइड वाहन चलाने पर भी पाबंदी लगा दी गई। रैली में बाइक पर चार सवारी या स्टंट किया तो कार्रवाई सुनिश्चित है। हूटर, सायरन और शहर के अंदर प्रेशर हॉर्न को भी अनाधिकृत कर दिया गया।

यातायात के नियमों का पालन कराने के लिए एसपी सिटी आलोक प्रियदर्शी और एसपी ट्रैफिक किरण यादव को नोडल अफसर बना दिया है। दोनों ही अफसरों को यातायात व्यवस्था सुनिश्चित कराने के लिए 50 दिन का समय दिया गया है। वाहनों को सीज करने के साथ आइपीसी की धाराओं में कार्रवाई भी होगी।

30 दिन में लंबित माल का निस्तारण: योगी टास्क में थानों की व्यवस्था पर भी गौर किया है। थानों में कबाड़ बन रहे करोड़ों के वाहनों का निस्तारण करने के आदेश दिए। थानावार माल की सूची तैयार करने के निर्देश दिए है। सभी थानों पर निरीक्षण कर वाहनों को देखा जाएगा। एसपी देहात श्रवण कुमार को नोडल अफसर बनाया है, जो देहात और शहर के सभी थानों के माल को निस्तारण कराएंगे।