यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)
UFH News Wheel

छह घंटे तक सुलगता रहा सहारनपुर, अंबेडकर शोभायात्रा को लेकर विवाद | सहारनपुर


Friday, April 21 2017
Vikram Singh Yadav, Chief Editor ALL INDIA

छह घंटे तक सुलगता रहा सहारनपुर, अंबेडकर शोभायात्रा को लेकर विवाद

अंबेडकर शोभायात्र निकालने को लेकर गांव सड़क दूधली सुलग उठा। दो संप्रदाय के लोगों के बीच पथराव, फायरिंग, आगजनी और लूटपाट हुई। आधा दर्जन से ज्यादा भाजपा कार्यकर्ता चोटिल हो गए। मंडलायुक्त की गाड़ी के शीशे तोड़ दिए। छह घंटे तक गांव से लेकर एसएसपी आवास तक उपद्रव होता रहा। पुलिस ने हालात पर बमुश्किल काबू पाया।

सहारनपुर शहर में भी सन्नाटा पसर गया। पूरे जिले में हाईअलर्ट घोषित कर दिया गया है। मेरठ जोन के आइजी अजय आनंद भी मौके पर पहुंच गए हैं। गांव में पुलिस बल तैनात है। उधर, पत्थर लगने से घायल हुए एसएसपी लवकुमार ने देर शाम अपना मेडिकल कराया। गुरुवार की सुबह भाजपा सांसद राघव लखनपाल शर्मा, पूर्व विधायक राजीव गुंबर व प्रशासनिक अधिकारियों के बीच हुई वार्ता में तय हुआ कि अंबेडकर शोभायात्र सड़क दूधली गांव के बाहर से निकाली जाएगी।

दोपहर करीब 12 बजे शोभायात्रा शुरू हुई तो भाजपाई अफसरों को धक्का देकर गांव में घुस गए। इससे अफसरों के हाथ-पांच फूल गए। मस्जिद के निकट से संप्रदाय विशेष के लोगों ने छतों से शोभायात्र पर पथराव व फायरिंग शुरू कर दी। मौके पर पहुंचे डीएम एमएस कमाल व एसएसपी लवकुमार ने दोनों पक्षों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन बात नहीं बनी।

सांसद गांव के अंदर से ही यात्रा निकाले जाने पर अड़ गए। संप्रदाय विशेष के लोगों ने रास्ते में ट्राली खड़ी कर दी। इसके बाद फिर पथराव शुरू हो गया। दुकानों में तोड़फोड़ शुरू हो गई। दून हाईवे पर आगजनी की गई। पुलिस ने शोभायात्रा का रथ व बैंड सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया।एसएसपी आवास में तोड़फोड़: सांसद राघव लखनपाल, विधायक कुंवर बृजेश सिंह व प्रदीप चौधरी एसएसपी आवास पर धरना देकर बैठ गए। लोगों ने सीसीटीवी कैमरे तोड़ दिए, नेम प्लेट उखाड़ दी। यहां एक व्यक्ति से मारपीट कर उसकी बाइक फूंक दी गई। बीच-बचाव में आए सिपाही राजबीर का हाथ तोड़ दिया।

क्या कहते हैं सांसद और पुलिस: सांसद राघव लखन पाल का कहना है, 'एसएसपी ने जानबूझ कर शोभायात्र की अनुमति नहीं दी। एसएसपी उपद्रवियों को रोकने के बजाए वहां से चले गए। उन्होंने खुद ही अपने आवास में तोड़फोड़ कराई है। शासन से अनुमति के बाद यात्र निकाली जाएगी।' वहीं आइजी मेरठ जोन, अजय आनंद कहते हैं, 'उपद्रवियों को चिन्हित कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। कहीं भी फायरिंग नहीं हुई है। शासन की अनुमति के बाद ही शोभायात्र निकलवाई जाएगी। फिलहाल सहारनपुर में शांति है।'

 

नवीन समाचार व लेख

अमन मार्च निकाल आपसी भाईचारा बनाये रखने का दिया संदेश

गाजीपुर कस्बे में बीती शाम गैस सिलेंडर फट जाने से आर्थिक नुकसान

मकान के विवाद में भाइयों में मारपीट

राजभवन में तिरंगा फहराकर राज्यपाल बोले, यूपी को सर्वोत्तम प्रदेश बनाएं

योगी और रामनाईक ने लखनऊ पुलिस लाइन में देखी कन्हैयालाल की झांकी