UP: शराब की दुकाने बंद करने को लेकर महिला ब्रिगेड का हल्ला बोल | राज्य

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)
UFH News Wheel

UP: शराब की दुकाने बंद करने को लेकर महिला ब्रिगेड का हल्ला बोल | राज्य


Thursday, April 06 2017
Vikram Singh Yadav, Chief Editor ALL INDIA

UP: शराब की दुकाने बंद करने को लेकर महिला ब्रिगेड का हल्ला बोल

उत्तर प्रदेश में जब से योगी सरकार आई है तभी से बूचड़खानों, अवैध खनन, भू-माफियाओं, वन माफियाओं पर सख्ती शुरू हो गई है. पिछले कुछ दिनों में शराब की दुकानों पर भी इसका असर दिखाई दिया है. सरकार के अलावा महिलाएं भी अब उत्तर प्रदेश में शराब की दुकानों के खिलाफ मोर्चा खोल रही हैं.

पूरे प्रदेश में हल्ला बोल
एंटी लिकर वुमेन ब्रिगेड ने यूपी के कई स्थानों पर शाराब की दुकान पर हमला किया है, और जबरन बंद करवाने की कोशिश की है. इस ब्रिगेड ने हापुड़, बुलंदशहर, मऊ, संभल, गोंडा में शराब की दुकानों को बंद करने को लेकर प्रदर्शन किया. जिसके बाद अब उत्तर प्रदेश में भी शराबबंदी की अटकलें तेज हो गई हैं.

तेज हुआ अभियान
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाल ही में प्रदेश के आबकारी विभाग  के साथ बैठक की थी, जिसके बाद डीआईजी रेंज ने एसपी, सीओ और पुलिस बल के साथ लखनऊ के कई इलाकों में शराब के ठेकों और दुकानों में चेकिंग अभियान चलाया था. साथ ही पूरे प्रदेश में शराब पर लेकर सख्ती लगातार बढ़ रही है.

सुप्रीम कोर्ट का भी आदेश
गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने हाल ही में एक आदेश जारी किया है, जिसके अनुसार हाइवे के 500 मीटर के दायरे में शराब की दुकानों पर पाबंदी लगा दी गई है. जिसके बाद से ही राज्य सरकारों और शराब के कारोबारियों में हड़कंप का माहौल है. राज्य सरकारें और शराब कारोबारी इस आदेश से बचने के लिए भी कई उपाय खोज रहे हैं.

ले चुके हैं कड़े फैसले
योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री बनने के बाद ही लगातार कई कड़े फैसले लिये हैं. उन्होंने अवैध बूचड़खानों पर पाबंदी, एंटी रोमियो दस्ते का गठन, भू-माफियाओं पर कार्रवाई, वन माफियाओं के खिलाफ एक्शन जैसे बड़े फैसले लिये हैं.