प्रदेश में नकल पर शिकंजा, आगरा में हाईस्कूल कृषि की परीक्षा निरस्त | राज्य

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)
UFH News Wheel

प्रदेश में नकल पर शिकंजा, आगरा में हाईस्कूल कृषि की परीक्षा निरस्त | राज्य


Friday, April 07 2017
Vikram Singh Yadav, Chief Editor ALL INDIA

प्रदेश में नकल पर शिकंजा, आगरा में हाईस्कूल कृषि की परीक्षा निरस्त

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार ने शिक्षा की गुणवत्ता पर ध्यान देने की योजना बना ली है। इसके क्रम में अभी चल रही उत्तर प्रदेश बोर्ड की हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा से ही काम शुरू हो गया है। आगरा में सामूहिक नकल का मामला सामने आने पर जिले में हाईस्कूल कृषि की परीक्षा निरस्त कर दी गई है। इसके साथ ही प्रदेश के विभिन्न केंद्रों पर बड़ी मात्रा में नकल होने पर 123 केंद्र की परीक्षा को निरस्त कर दिया गया है। 

आगरा जिले भर के केंद्रों पर पिछले दिनों हुई हाईस्कूल कृषि की परीक्षा निरस्त कर दी गई है। अब इसकी दोबारा परीक्षा 22 अप्रैल को सुबह की पाली में होगी। इम्तिहान पहले से तय परीक्षा केंद्रों पर ही होगा। 29 मार्च को सायं पाली में हाईस्कूल कृषि केवल प्रश्नपत्र की परीक्षा सूबे के अन्य जिलों की तरह आगरा में भी हुई थी। इस परीक्षा की शुचिता प्रभावित की चर्चा थी। जिला विद्यालय निरीक्षक आगरा की रिपोर्ट मिलने के बाद यूपी बोर्ड प्रशासन ने जिले भर का इम्तिहान निरस्त करने का फैसला लिया। यहां अब दोबारा परीक्षा 22 अप्रैल को सुबह 7.30 से 10.45 तक कराया जाएगा। परीक्षा उन्हीं केंद्रों पर होगी, जहां परीक्षार्थियों ने पहले इम्तिहान दिया था। बोर्ड की सचिव शैल यादव ने बताया कि परीक्षा निरस्त करने का कारण अपरिहार्य है। 

28 नकलची पकड़े गए 

यूपी बोर्ड की इंटर परीक्षा में सुबह इतिहास द्वितीय प्रश्नपत्र, शस्य विज्ञान द्वितीय प्रश्नपत्र व सायं पाली में अधिकोषण तत्व द्वितीय प्रश्नपत्र का इम्तिहान हुआ। बोर्ड मुख्यालय के कंट्रोल रूम की ओर से बताया गया कि इस परीक्षा में 23 बालक, पांच बालिकाओं समेत 28 नकलची पकड़े गए हैं। बोर्ड इम्तिहान में अनुचित साधन के साथ पकड़े गए परीक्षार्थियों की संख्या बढ़कर 1797 हो गई है। 

प्रदेश में बोर्ड परीक्षा का आज 19वां दिन है। परीक्षाओं में नकल पर लगाम लगाने तथा प्रदेश में शिक्षा व्यवस्था में सुधार करने के लिए योगी आदित्यनाथ ने परसों अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए थे। अब बोर्ड परीक्षाओं में नकल को लेकर अधिकारियों ने सख्त रुख अपनाया है। परीक्षाओं में नकल को लेकर 123 परीक्षा केंद्रों पर कारवाई के निर्देश दिए हैं। यही नही प्रदेश भर में 15 केंद्रों पर अलग-अलग परीक्षाएं रद कर दी गई हैं। प्रदेश के 54 परीक्षा केंद्रों की उत्तर पुस्तिकाओं की अब स्क्रीनिंग भी कराइ जायेगी। बोर्ड को प्रदेश के 54 केन्द्रों को डिबार करने की संस्तुतियां भी मिल गई है।

 

 

नवीन समाचार व लेख

रूमा बरँदेव के मन्दिर मे ट्रकों का ठहराव देता है मौत की दावत ।

दूल्हा हुआ फरार दुल्हन करती रही बरात का इंतजार ।

मामूली विवाद पर दबंगों ने युवक पर धारदार हथियार से हमला ,गम्भीर

कैबिनेट बैठक एक दिन बाद नगर निकाय शपथ ग्रहण के चलते टली

रायबरेली के रहने वाले एक व्यक्ति के समस्या दूर न करने पर जैन क्लीनिक पर जुर्माना